जल स्वावलंबन सप्ताह के अंतर्गत श्रमदान

जिला कलक्टर ने किया मेहड़तनी जी बावड़ी में श्रमदान
परम्परागत जल स्रोतों का जीर्णोद्धार करने की जरूरत
- जिला कलक्टर
झुंझुनू, 08 जून। मुख्यमंत्री जल स्वावलम्बन अभियान के द्वितीय चरण में 4 जून से 8 जून तक चल रहे जल स्वावलम्बन सप्ताह के तहत शुक्रवार को प्रातः 7 बजे से नगर परिषद द्वारा मेहड़तनी जी बावड़ी एवं गोगाना जोहड़ में मुख्यमंत्री जल स्वावलम्बन अभियान (शहरी) के द्वितीय चरण में श्रमदान का कार्यक्रम आयोजित किया गया।
जिला कलक्टर दिनेश कुमार यादव, जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी जेपी बुनकर, उप वन संरक्षक आरएन मीना, नगर परिषद आयुक्त विनय पाल सी. ओ. स्काउट महेश कालावत , सो ओ गाइड सुभीता गिल एवं जिला प्रशासन के अधिकारियों-कर्मचारियों सहित स्काउट गाइड के कैडेटों ने झाडुओं से बावड़ी की सीढियों का कचरा साफ किया।
जिला कलक्टर दिनेश कुमार यादव ने बताया कि परम्परागत जल स्रोतों का जीर्णोद्धार करने की जरूरत है जिससे कि ऎतिहासिक महत्व के जर्जर बावड़ियों का संरक्षण किया जा सके। उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र में प्रारंभ से ही पानी की कमी होने के कारण यहां पानी संग्रहण के उद्देश्य से ही इन बावडियों का निर्माण किया गया था। अब फिर जल संकट के समय ये बावड़िया वरदान साबित हो सकती है।
उन्होंने बताया कि मेहड़तनी जी की बावड़ी के जीर्णाेद्धार के लिये केन्द्र सरकार को प्रस्ताव तैयार कर भिजवाया गया है। जैसे ही वहां से स्वीकृति मिल जायेगी इसका जीर्णोद्धार का कार्य शुरू कर दिया जायेगा। मुख्य कार्यकारी अधिकारी जेपी बुनकर ने मुख्यमंत्री जल स्वावलम्बन कार्यक्रम को भविष्य के लिये वरदान बताते हुए कहा कि यह कार्यक्रम हमारी भावी पीढ़ी के लिये जीवनदायी साबित होगी। इसके लिये आम जन को आगे आकर सहयोग करना होगा। इस अवसर पर अनेक अधिकारी जनप्रतिनिधि एवं बच्चों ने श्रमदान किया। पार्षद लतीफ खान, मनोनीत पार्षद विजय सैनी, उप पुलिस अधीक्षक गोपाल शर्मा, सी आई गोपाल ढाका सहित अनेक गणमान्य लोग उपस्थित थे।
----------

vijay kumar garwa's picture
from India, 1 year ago

Project Period

Started On
Friday, June 8, 2018
Ended On
Friday, June 8, 2018

Participants

100

Service hours

200

Topics

Youth Programme

SDG

Are you sure you want to delete this?
Welcome to Scout.org! We use cookies on this website to enhance your experience.To learn more about our Cookies Policy go here!
By continuing to use our website, you are giving us your consent to use cookies.