Digidhan Planing Fair & Seminar

....Today on the occasion of 126 th birthday of Dr. Bheem Rao Ambedakar. A program by both up ND India govenment is held named DIGITAL MELA. It was opened by Mr. Haiti Shankara ND Mrs. Sandeep kaur. In the program we have discussed about a new India. Though it was the dream of Bheem Rao Ambedakar to be with a new India. We have also heard the speech of our present P. M. Mr. Narendra Modi. Today BHIM a app was launch to be as a part of cashless India. Full form of this is BHARAT INTERFORCE FOR MONEY. Digital India is an important program. Though to complete the dream DM has explained how to transfer money without using actual cash. Bheem Rao Ambedakar
has donated his whole life for a better India ND he make the constitution and you can do that what u want according to the constitution. Is was except from caste or color etc. He was a great man so we have to study him.....
जनपद मुख्यालय, तहसील मुख्यालय, विकासखण्ड मुख्यालय एवं ग्राम पंचायत स्तर पर डिजिटल पेमेन्ट को बढ़ावा देने के उद्देश्य से डिजी धन मेेला का आयोजन करने के निर्देश दिये गये हैं ।
    उपरोक्त के क्रम में प्रखर पैराडाइज उरई जनपद जालौन में प्रातः 11:00 बजे से बाबा साहब डा0 भीमराव अम्बेडकर की जयंती के शुभ अवसर पर विशेष अतिथि मा0 विधायक श्री गौरीशंकर वर्मा जी उपस्थिति में निम्न कार्यक्रमों का आयोजन किया गया । 
1.    बाबा साहब डा0 भीमराव अम्बेडकर की जयंती उनकी प्रतिमा पर मल्यार्पण कर पूजा अर्चना के पश्चात डिजी धन मेले का शुभारम्भ किया गया ।
2.    भारत सरकार द्वारा डिजिटल पेमेन्ट एवं कैशलेस पेमेन्ट को बढ़ावा देने हेतु भीम ऐप (भारत इंटरफेस फाॅर मनी) यू0पी0आई0 (यूनिफाईड पैमेन्ट इन्टरफेस), एन0पी0सी0आई(भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम), रूपये कार्ड, पेटीएम, ए0ई0पी0एस0(आाधार एनेब्लड पेमेन्ट सिस्टम) इंटरनेट बैंकिंग, स्वाइप मशीन, इत्यादि का प्रोजेक्टर द्वारा उपस्थित अधिकारी/कर्मचारी एवं जनसामान्य को विस्तृत जानकारी एवं प्रशिक्षण ई-डिस्ट्रिक्ट मैनेजर श्री पुष्पेन्द्र सिंह द्वारा दिया गया । 
3.    विभिन्न विभागों यथा वाणिज्यकर, पोस्ट आफिस, जिला खाद्य एवं रसद विभाग, बैंक, उर्वरक कम्पनीयों तथा ई-डिस्ट्रिक्ट योजनान्तर्गत संचालित डिस्ट्रिक्ट सर्विस प्रोवाइडर द्वारा स्टाल लगाकर जन सामान्य को सरकारी योजनाओं में डिजिटल पेमेन्ट एवं कैशलेस पेमेन्ट सम्बन्धी जानकारी दी गयी । 
4.    आधार कार्ड का कैम्प लगाकर आधार कार्ड जनसामान्य के बनवाये गये । 
5.    ई-डिस्ट्रिक्ट योजनान्र्तगत जारी होने वाले प्रमाण-पत्रों को बनाने का भी स्टाल लगाया गया ।
तत्क्रम में मा0 प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी भारत सरकार द्वारा नागपुर में डिजिटल पेमेन्ट को बढ़ावा देने सम्बन्धी कार्यक्रम समय 12:25 से 12:25 तक का सीधा प्रसारण लैपटाॅप एवं प्रोजेक्टर के माध्यम से बड़े पर्दे पर कार्यशाला में उपस्थित समस्त अधिकारी/कर्मचारी एवं जनसामान्य को दिखाये एवं सुनवाये जाने की व्यवस्था ई-डिस्ट्रिक्ट मैनेजर द्वारा की गयी ।
उपरोक्त कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि मा0 विधायक सदर श्री गौरी शंकर वर्मा, जिलाधिकारी श्रीमती संदीप कौर, अपर जिलाधिकारी जालौन श्री राकेश कुमार सिंह, नगर मजिस्ट्रेट अनिल कुमार मिश्रा, उपजिलाधिकारी उरई श्री अक्षय त्रिपाठी, जान्इट मजिस्ट्रेट श्री आलोक यादव, उपकृषि निदेशक श्री अनिल पाठक, जिला सूचना विज्ञान अधिकारी श्री कृष्ण मोहन, अपर जिला सूचना विज्ञान अधिकारी श्री अशोक सक्सेना, जिला विद्यालय निरीक्षक श्री राजेन्द्र बाबू, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी श्री कमलेश कुमार ओझा, वाणिज्य कर उपायुक्त श्री एस0के0सिंह, एल0डी0एम0 बैंक श्री राय, डाक अधीक्षक, जिला समाज कल्याण अधिकारी, पिछड़ा वर्ग कल्याण अधिकारी, डिस्ट्रिक्ट सर्विस प्रोवाइडर सहज लि0 लखनऊ के स्टेट मैनेजर श्री नीरज सिंह, कु0 ममता स्वर्णकार, श्री युद्धवीर कंथरिया, श्री संजीव तथा विभिन्न विभागों के सभी कर्मचारी , जनसामान्य, किसान व छात्रों इत्यादि द्वारा प्रतिभाग किया गया ।
इसी प्रकार जनपद की प्रत्येक तहसील कालपी, कोंच, जालौन, माधौगढ़ एवं विकासखण्ड नदीगांव, रामपुरा, कुठौन्द, कदौरा एवं प्रत्येक जन सेवा केन्द्रो पर में शासनादेशानुसार डिजीटल पेमेन्ट को बढ़ावा दिये जाने हेतु डिजी धन मेले का आयोजन किया गया l
....Bhimrao Ramji Ambedkar (14 April 1891 – 6 December 1956), popularly known as Baba Saheb, was an Indian jurist, economist, politician and social reformer who inspired the Dalit Buddhist Movement and campaigned against social discrimination against Untouchables (Dalits), while also supporting the rights of women and labour.[3][4] He was Independent India's first law minister and the principal architect of the Constitution of India.[5][6][7][8]
Ambedkar was a prolific student, earning doctorates in economics from both Columbia University and the London School of Economics, and gained a reputation as a scholar for his research in law, economics and political science.[9] In his early career he was an economist, professor, and lawyer. His later life was marked by his political activities; he became involved in campaigning and negotiations for India's independence, publishing journals, advocating political rights and social freedom for Dalits, and contributing significantly to the establishment of the state of India. In 1956 he converted to Buddhism, initiating mass conversions of Dalits.
In 1990, the Bharat Ratna, India's highest civilian award, was posthumously conferred upon Ambedkar. Ambedkar's legacy includes numerous memorials and depictions in popular culture....

Avatar Mamta Swarnkar D.T.C
from India, 2 tahun yang lalu

Periode Proyek

Started On
Friday, April 14, 2017
Ended On
Friday, April 14, 2017

Jumlah peserta

350

Lamanya pelayanan

1050
Geolocation

Topics

Spiritual Development
Youth Programme
Good Governance
Adults in Scouting

SDG

Are you sure you want to delete this?
Welcome to Scout.org! We use cookies on this website to enhance your experience.To learn more about our Cookies Policy go here!
By continuing to use our website, you are giving us your consent to use cookies.